उन्नाव गैंगरेप: एसआईटी करेगी उन्नाव प्रकरण की जांच 

उन्नाव गैंगरेप: एसआईटी करेगी उन्नाव प्रकरण की जांच फोटो साभार: इंटरनेट

लखनऊ। उन्नाव में भाजपा विधायक द्वारा लड़की के साथ कथित रूप से बलात्कार किए जाने और उक्त युवती के पिता की न्यायिक हिरासत में मौत के प्रकरण की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है।

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने मंगलवार को बताया, “एसआईटी इस घटना से जुड़े सभी पहलुओं की जांच करेगी।“

उधर बलात्कार के आरोपी विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर को मंगलवार सुबह ही उन्नाव में गिरफ्तार कर लिया गया है।

राज्य पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर अपराध शाखा के एक दल ने अतुल को गिरफ्तार किया। 18 वर्षीय पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसके भाइयों ने बलात्कार किया है। अपर पुलिस महानिदेशक ने यह भी कहा, “इस प्रकरण में अभी तक किसी को क्लीन चिट नहीं दी गई है।“

पीड़िता के पिता की सोमवार को उन्नाव में हिरासत में मौत हो गई। लड़की का आरोप है कि विधायक के इशारे पर उसके पिता की जेल में हत्या की गई है। उन्नाव की पुलिस अधीक्षक पुष्पांजलि देवी के मुताबिक, लड़की के पिता को आठ अप्रैल को जिला जेल से अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान सोमवार को उनकी मौत हो गई।

पप्पू की पिटाई के प्रकरण में चार अप्रैल को दर्ज प्राथमिकी में चार लोग नामजद हैं। पुलिस इन चारों सोनू, बउवा, विनीत और शैलू को गिरफ्तार कर चुकी है। शिकायत लड़की की मां ने दर्ज कराई थी। बलात्कार पीड़िता के पिता को पांच अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था। पिता की विधायक के भाई ने कथित तौर पर पिटाई की थी।

इस मामले में माखी थाना प्रभारी अशोक कुमार सिंह और पांच अन्य पुलिसकर्मियों को अब तक निलंबित किया जा चुका है।

(एजेंसी)

ये भी पढ़ें- उन्नाव: गैंग रेप मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेगर का भाई गिरफ्तार

ये भी पढ़ें- भारत बंद : बिहार में कई जगह बवाल, MP के भिंड-मुरैना में कर्फ्यू, राजस्थान में आंशिक असर

ये भी पढ़ें- मोतिहारी लाइव : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छाग्रहियों को भोजपुरी में किया संबोधित 

Share it
Top