ठंड व कोहरे से खिले किसानों के चेहरे, रबी उत्पादन बढ़ने की उम्मीद

ठंड व कोहरे से खिले किसानों के चेहरे, रबी उत्पादन बढ़ने की उम्मीदगांव कनेक्शन में प्रकाशित ख़बर

कई दिनों से प्रदेश में पड़ रही कड़ाके की ठंड ने किसानों के चेहरे पर मुस्कान ला दी है। कोहरा पड़ने व तापमान में गिरावट होने से किसानों को रबी फसलों की अच्छी पैदावार की उम्मीद है। वहीं मौसम विज्ञानी का कहना है कि अभी सर्दी और बढ़ेगी। रबी फसलों के तहत प्रमुख फसलों में गेहूं, सरसों, चना, मसूर, मटर, गन्ने आदि की फसलों को व्यापक फायदा पहुंचने की उम्मीद बढ़ गई है।

दिसंबर माह से ही लगातार तापमान में गिरावट देखी जा रही है। सर्दी बढ़ने से फसलों को फायदा पहुंचने की उम्मीद है। उन्नाव के भतावा गाँव के किसान राजू लोधी (57 वर्ष) बताते हैं, "सर्दी बढ़ने से अच्छी फसल होने की उम्मीद जागी है। यह मौसम रबी की सभी फसलों के लिए अच्छा है। ठंड बढ़ने से मटर, सरसों, गेहूं आदि की फसलों में दाना अच्छा पड़ता है। इससे किसानों की अच्छी पैदावार होने की उम्मीद है।"

ये भी पढ़ें:- जानें बोरान की कमी से किन-किन फसलों पर पड़ता है असर, कृषि वैज्ञानिक बता रहे उपाय

वहीं जालौन के किसान रामआसरे का कहना है, "मैंने गेहूं की फसल लगाई है। इस समय जैसा मौसम चल रहा है ऐसा ही मौसम यदि कुछ दिनों रहा तो फसलों के लिए अच्छा होगा। थोड़ी पानी भी गिर जाए तो और भी अच्छा होगा। फसल में पानी लगाने की जरूरत नहीं होगी। जिससे किसानों की लागत में कमी आएगी। साथ ही पैदावार भी अच्छी होगी।

जालौन जिला कृषि अधिकारी राम मिलन परिहार बताते हैं, "तापमान गिरना फसल के लिए लाभदायक है। साथ ही कोहरा भी फायदेमंद है। कोहरे से छोटी छोटी बूंद यानि ओस का पानी मिलने से फसल में नमी बनी हुई है। जो खेती के लिए लाभदायक है। रबी की फसल में मटर, गेहूं, सरसों, मसूर आदि के लिए तापमान कम होने से अच्छी पैदावार होगी।"

रात के तापमान में दो डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की जा सकती है।

ये भी पढ़ें- किसानों के लिए बनाई गई योजनाओं में किसान होता है क्या ?

कृषि विज्ञान केंद्र प्रतापगढ़ के प्रमुख वैज्ञानिक अखिलेश कुमार श्रीवास्तव बताते हैं, "उत्तर प्रदेश में इस समय अच्छी ठंड पड़ रही है। इस ठंड के मौसम में रबी फसलों को अच्छा फायदा मिल रहा है। गेहूं, सरसों, चना, मसूर, मटर की फसलों को फायदा पहुंचने की उम्मीद बढ़ गई है। अगर तापमान में अधिक गिरावट आती है तो आलू और मटर की फसलों को नुकसान होगा। इस समय हल्की बारिश हो जाती है तो चना और गेहूं की फसलों को बहुत फायदा मिलेगा।"

ये भी पढ़ें:- भावांतर के भंवर में कहीं फंस न जाएं किसान

ये भी पढ़ें- आलू की फसल पर मंडरा रहा पछेती झुलसा का ख़तरा, हो जाएं सावधान

ये भी पढ़ें- आलू सरसों समेत कई फसलों के लिए काल है ये कोहरा और शीत लहर, ऐसे करें बचाव 

ये भी पढ़ें- पशुओं के लिए ट्रे में उगाएं पौष्टिक चारा, देखिए वीडियो

Share it
Top