अभियान चलाकर अवैध कब्जेदारों से छुड़ाई जा रही सरकारी ज़मीन

अभियान चलाकर अवैध कब्जेदारों से छुड़ाई जा रही सरकारी ज़मीनसरकारी ज़मीन से अभियान चलाकर अवैध कब्जों को हटाया जा रहा है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। सरकारी जमीन से अभियान चलाकर अवैध कब्जों को हटाया जा रहा है। बीकेटी एसडीएम ज्योत्सना यादव ने बताया, “अभियान के तहत 12 करोड़ रुपए की जमीन अवैध कब्जे से छुड़वाई गई है। इसके साथ ही नगर पंचायत बीकेटी में सीतापुर रोड पर अभियान चलाकर अवैध कब्जा हटाया गया। वहीं ग्राम रुधौली, बहुली और फर्रुखाबाद सीरौरा में नदी के किनारे की जमीन से अवैध कब्जा हटाया गया है।”

ये भी पढ़ें- एक आइडिया ने बदल दी गाँव की सूरत, आज दुनिया में ‘इंद्रधनुषी गाँव’ नाम से है फेमस

वहीं राजस्व परिषद की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि यदि ग्राम पंचायत की भूमि पर अतिक्रमण की सूचना ग्राम पंचायत के सदस्य सचिव (लेखपाल) की ओर से समय पर नहीं दी जाती है और अतिक्रमण हटाने के लिए प्रभावी कार्रवाई नहीं की जाती है तो यह उसके कर्तव्य पालन में शिथिलता मानी जाएगी और इसके लिए उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

मुआयना करती बीकेटी एसडीएम ज्योत्सना यादव।

सरोजनीनगर तहसील के चंद्रावल गाँव में करोड़ों रुपए कीमत की 24 बीघे सरकारी जमीन से अवैध कब्जा हटवा दिया गया है। तसहीलदार उमेश सिंह बताते हैं, “ये काम इतना आसान नहीं है। बड़े स्तर पर हटाए जा रहे अवैध कब्जे को लेकर भू-माफिया राजस्व विभाग की टीम का विरोध कर रहे हैं।” उमेश सिंह आगे बताते हैं, “कली गाँव का अवैध कब्जे हटाने पर 50 लोगों के खिलाफ लेखपाल सत्यदेव सिंह ने एफआईआर दर्ज कराई है। जब तक शासन से आदेश मिलता रहेगा तब तक अवैध कब्जे हटते रहेंगे।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top