वाराणसी में वोटर लिस्ट से राज्यमंत्री का ही नाम गायब  

Vinod SharmaVinod Sharma   14 Nov 2017 11:32 AM GMT

वाराणसी में वोटर लिस्ट से राज्यमंत्री का ही नाम गायब  साभार: इंटरनेट 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

वाराणसी। नगर निगम चुनाव के नामांकन के बाद अब शहर के वार्डों में प्रत्याशियों ने जनता के बीच पैठ बनाने के लिए प्रचार अभियान तेज कर दिया है। साथ ही निर्वाचन अधिकारी भी चुनाव को सकुशल सम्पन्न कराने में जुट गए हैं, लेकिन सोमवार सुबह वोटर लिस्ट में शहर दक्षिणी के विधायक एवं राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी और तीन भाजपा मंडल अध्यक्ष के नाम गायब होने की जानकारी मिलने पर निर्वाचन कार्यालय में हड़कम्प मच गया। राज्यमंत्री ने खुद इसकी शिकायत रिटर्निंग अधिकारी एवं जिलाधिकारी योगेशराम मिश्र से की।

निकाय चुनाव के दूसरे चरण में 26 नवम्बर को वाराणसी में मतदान होना है। नामांकन प्रक्रिया खत्म होने के बाद चुनाव प्रचार की गति तेज हो गयी। रविवार छुट्टी के दिन सभी दलों के प्रत्याशियों ने डोर-टू-डोर जनता से संवाद दिया। साथ ही मतदाता पर्ची बांटकर वोट देने की अपील की। इसी क्रम में जोल्हा उत्तरी वार्ड में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा मतदाता सूची बनाने का कार्य चल रहा था।

ये भी पढ़ें-आदित्यनाथ 14 नवंबर से अयोध्या से करेंगे यूपी निकाय चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत

सूची में शहर दक्षिणी विधायक एवं राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी का नाम न देख कार्यकर्ताओं के होश उड़ गए। उन्होंने इसकी जानकारी विधायक को दी। इस संबंध में सोमवार सुबह राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी ने जिलाधिकारी योगेशराम मिश्र से शिकायत की। डीएम से नाराजगी जताते हुए राज्यमंत्री ने कहा संशोधित मतदाता सूची में मेरा ही नाम नहीं है। इसके अलावा भाजपा के तीन मंडल अध्यक्षों के नाम भी गायब है, जबकि पहले वाली सूची में मेरा नाम था।

ये भी पढ़ें-यूपी निकाय चुनाव के लिए BJP का संकल्प पत्र जारी, बुनियादी सुविधाओं पर जोर

“निर्वाचन कार्यालय से इसकी सूचना मिली है। नाम कैसे गायब हुआ है, इसकी जांच कराई जा रही है। संबंधित बीएलओ से जानकारी मांगी गयी है। साथ ही पहले और संशोधित मतदाता सूची का मिलान कराया जा रहा है।”
सुनील कुमार गौड़,अपर नगर मजिस्ट्रेट

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top