फर्नीचर बनाने की आड़ में चल रहा था मोबीआॅयल का धंधा

फर्नीचर बनाने की आड़ में चल रहा था मोबीआॅयल का धंधापुलिस ने की कार्रवाई।

इश्त्याक खान/रहनुमा बेगम

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

औरैया। जिले के अछल्दा ब्लाक में चल रही मोबीआयल की नकली कंपनी का भंडा-फोड एसडीएम बिधूना ने एसओजी टीम के सहयोग से किया है। टीम ने मौके से एक हजार लीटर से अधिक मोबीआयल, खाली कटिटयां सहित अन्य सामान बरामद किया है। लकड़ी का फर्नीचर बनाने की आड़ में चल रहा था नकली धंधा। अपेक्स गोल्ड का रैपर कर करते थे सप्लाई।

ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन से प्रभावित होगी खरीफ की बुवाई, पैदावार पर भी पड़ेगा असर

जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर अछल्दा क्षेत्र के गांव रामपुर बोडेपरुर में एसओजी टीम और एसडीएम बिधूना ने छापा मार कर एक हजार से अधिक मोबीआॅयल बरामद किया है। छापा मार कार्रवाई के समय कई वर्कर दीवार फांद कर भाग जाने में सफल रहे जब कि पुलिस ने फर्जी मोबीआॅयल कंपनी के मालिक और उसके पुत्र को हिरासत में ले लिया है।

जब्त कियस गया मोबीऑयल।

थानाध्यक्ष अछल्दा अखिलेश यादव ने बताया,“ मोबीआयल की फर्जी कंपनी रामपुर निवासी ओम प्रकाश गुप्ता और उसका पुत्र मनोज संचालित कर रहे थे। दोनों को हिरासत में ले लिया गया। कंपनी मालिक से दस्तावेज दिखाने के लिए कहा गया तो वह नहीं दिखा पाया। कागजात न दिखा पाने पर ड्रम में भरा मोबीआॅयल छोटा हाथी लोडर पर लदवा कर थाने पहुंचाया गया। इसके अलावा अन्य सामान के साथ खाली कटिटयों को ट्रैक्टर के द्वारा थाने में लाया गया। दोनों के खिलाफ मामला दर्ज जेल भेज दिया गया है। ”

ये भी पढ़ें- प्री मानसून बारिश शुरू, कृषि वैज्ञानिकों ने धान की रोपाई के लिए बताया फायदेमंद

दुकानों से हटाया गया मोबीआॅयल

फर्जी मोबीआयल कंपनी पर छापा मार कार्रवाई के डर से दुकानों पर रखा अपेक्स गोल्ड और एक्सट्रा पावर के मोबीआयल को दुकानदारों ने तत्काल दुकानों से हटवा दिया। फर्जी मोबीआयल आने के डर से दुकानदार परेशान हो रहे है। पुलिस अधीक्षक संजीव त्यागी ने बताया “जिले की उन दुकानों पर जांच-पडताल की जाएगी, जहां मोबीआयल की बिक्री होती है“। फर्जी मोबीआयल पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top