लड़कियों को अछूत बोलकर बैठा देते हैं अलग

Rishabh MishraRishabh Mishra   1 Jun 2017 4:09 PM GMT

लड़कियों को अछूत बोलकर  बैठा देते हैं अलगप्रतीकात्मक तस्वीर

शाहजहांपुर। "ऐसे समय में घर में ही हमको अछूत हो बोलकर एक जगह बैठा दिया जाता है। मुझे सबसे बुरा तब लगता है जब दादी रसोईघर में भी नहीं जाने देतीं। कहते है लड़कों के सामने बाते न करो पर जब ये अलग व्यवहार करती है तो लड़कों को समझ नहीं आता।" ऐसा बताती हैं, 20 वर्षीय रुचि यादव।

रुचि जैसी हजारों किशारियों को महावारी के दौरान ऐसी समस्याओं को झेलना पड़ता है। इस शर्म और संकोच को दूर करने के लिए गाँव कनेक्शन फाउडेशन की तरफ से 25 जिलों में विश्व महावारी दिवस मनाया गया।

ये भी पढ़ें : माहवारी के असहास की कहानी, खुद महिलाओं की जुबानी

शाहजहांपुर के सैजना गाँव में महावारी के बारे में जानकारी देते हुए डॉ अंजलि

शाहजहांपुर जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर ददरौल ब्लॉक के सैजना गाँव और मुख्यालय से आठ किलोमीटर दूर भावलखेड़ा ब्लॉक के मिश्रीपुर गाँव में महावारी के बारे में महिलाओं को जागरूक किया गया। सैजना गाँव में महावारी के बारे में जानकारी देते हुए डॉ अंजलि ने बताया, "महावारी के दौरान साफ कपड़े का इस्तेमाल करना चाहिए कुछ महिलाएं माहवारी के दौरान गंदे कपड़े का इस्तेमाल कर लेती हैं, जिससे कैंसर होने का खतरा बना रहता है। महावारी के दौरान हर चार-चार घंटे के बाद पैड बदलना चाहिए, और साफ शौचालय का इस्तेमाल करना चाहिए।"

ये भी पढ़ें : अब समय है लड़के भी मुंह दबाकर हंसे बिना ‘पीरियड’ शब्द कहें

कार्यक्रम के दौरान डॉक्टर से महिलाओं द्वारा प्रश्न भी पूछे गए। कार्यक्रम में आई लीलावती (25 वर्ष)महावारी के दौरान जब पेट में दर्द होता है तो क्या करना चाहिए? तो डॉक्टर अंजलि ने उन्हें सलाह देते हुए कहा, "महावारी के दौरान जब पेट में दर्द हो तो गर्म कपड़े से पेट के ऊपर सिकाई करनी चाहिए और गर्म पानी पीना चाहिए चावल नहीं खाने चाहिए माहवारी के दौरान चावल खाने से पेट में सूजन आ जाती। इस दौरान साफ-सफाई का सबसे ज्यादा ध्यान रखना चाहिए।"


मिश्रीपुर गाँव की सविता कुमारी (30 वर्ष) बताती है, "आज गाँव कनेक्शन ने जो बताया गया वो सही था मैं अपनी लड़कियों को भी इसके बारे में बताऊंगी। साफ-सफाई के दौरान महावारी के समय होने वाली बीमारियों के बारे में भी बता चला।

ये भी पढ़ें : माहवारी के दिनों में भी जा सकती हैं मंदिर, छू सकती हैं अचार

आशा बहू बीना गुप्ता ने बताया, "महावारी के दौरान ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए और कभी-कभी महावारी के दौरान हार्मोन्स गड़बड़ा जाते हैं, जिससे माहवारी ज्यादा दिन तक आने लगती है और कभी-कभी माहवारी के दौरान बीपी भी गड़बड़ हो जाता है कुछ लोग महावारी के दौरान गंदा कपड़ा इस्तेमाल कर लेते हैं जिससे उनको कई बीमारियां हो जाती है जैसे सूजन आना ,शरीर में खुजली होना और कैंसर होने का भी खतरा बढ़ जाता है इसलिए गंदे कपड़े का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।"

ये भी देखें :

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top