यूपी में अब एक नहीं चार इंस्‍पेक्‍टर संभालेंगे थाना

डीजीपी ओपी सिंह ने गुरुवार को सभी जिलों के कप्तानों से एक थानों में चार इंस्पेक्टर की तैनाती के आदेश जारी कर दिए। नई व्यवस्था के तहत थाने में एक मुख्य इंस्पेक्टर के अलावा, इंस्पेक्टर क्राईम, इंस्पेक्टर लॉ एंड ऑर्डर और इंस्पेक्टर एडमिन की तैनाती होगी।

यूपी में अब एक नहीं चार इंस्‍पेक्‍टर संभालेंगे थाना

लखनऊ। डीजीपी ओपी सिंह ने गुरुवार को सभी जिलों के कप्तानों से एक थानों में चार इंस्पेक्टर की तैनाती के आदेश जारी कर दिए। नई व्यवस्था के तहत थाने में एक मुख्य इंस्पेक्टर के अलावा, इंस्पेक्टर क्राईम, इंस्पेक्टर लॉ एंड ऑर्डर और इंस्पेक्टर एडमिन की तैनाती होगी। डीजीपी ने अपने आदेश में कहा है कि पुलिस थानों में बढ़ रही चुनौतियों और उच्चतम न्यायालय द्वारा कानून व्यवस्था और अपराध को अलग-अलग करने के सुझाव को देखते हुए नई व्यवस्था लागू की जा रही है।

यूपी पुलिस का खौफ, अपराधियों ने अब अपराध न करने की ली शपथ, देखें वीडियो


इस व्यवस्था के तहत क्षेत्राधिकारी मुख्यालय के थानों पर चार इंस्पेक्टर तैनात किए जाएंगे। इस प्रकार क्षेत्राधिकारी मुख्यालय के थानों पर 1+3 निरीक्षक रैंक के अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। वैसे इन नियुक्तियों में एसएसपी या एसपी यह सुनिश्चित करेंगे की प्रभारी निरीक्षक वरिष्ठतम होना चाहिए। दरअसल पिछले दिनों प्रमोशन के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने इंस्पेक्टर की संख्या में काफी इजाफा हो गया है। पिछले दिनों 2227 दरोगाओं के इंस्पेक्टर के पद पर प्रमोशन हुआ है, जिसके कारण प्रदेश के थानों में इंस्पेक्टरों की संख्या यूपी पुलिस के आला अफसरों के लिए समस्या बन गई थी। इसी से निपटने के लिए अब थानों में अपराध और कानून व्यवस्था को अलग-अलग ढंग से देखने की योजना बनाई गई है। योजना है कि हर थाने में चार इंस्पेक्टर होंगे, जो क्राइम और कानून व्यवस्था को अलग-अलग देखेंगे।

आधुनिक सुरक्षा उपकरणों से लैस होगा यूपी पुलिस का सिग्नेचर भवन

इन निरीक्षकों की संख्या बढऩे के साथ ही महानगरों में अतिरिक्त निरीक्षकों की तैनाती की व्यवस्था पर मंथन शुरू हो गया है। योजना को अमली जामा पहनाने के लिए डीजीपी ने एडीजी तकनीकी सेवाएं आशुतोष पांडेय के नेतृत्व में कमेटी गठित कर रिपोर्ट मांगा था। सूत्रो की माने तो बुधवार को एडीजी ने अपनी रिपोर्ट दी, जिसके आधार पर यह फैसला लिया गया है।

नौजवानों के लिए यूपी पुलिस में 1.62 लाख भर्तियों की सौगात


Share it
Top