उत्तर प्रदेश बजट 2018 : योगी आदित्यनाथ के बजट के फोकस में कौन होगा किसान या नौजवान

उत्तर प्रदेश बजट 2018 : योगी आदित्यनाथ के बजट के फोकस में कौन होगा किसान या नौजवानउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार आज विधानसभा में 2018—19 का बजट पेश करेगी। योगी आदित्यनाथ सरकार का यह दूसरा बजट होगा। इस बार संभावना है कि बजट में प्रदेश के चहुंमुखी विकास के लिए प्रावधान किए जाएंगे, जिनमें बुनियादी ढांचा और रोजगार पर विशेष जोर हो सकता है। उत्तर प्रदेश बजट दोपहर 12.20 पर पेश किए जाएगा।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि बजट समाज के हर वर्ग और राज्य के हित में होगा । सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, सड़क एवं बिजली जैसे क्षेत्रों का ध्यान रखा जाएगा।

ये भी पढ़ें- यूपी बजट 2017: भाजपा की झोली भरने वाले बुंदेलखंड पर राहत की चंद छीटें

ये भी पढ़ें- ऐसे जाने, ग्राम पंचायत को कितना मिला पैसा, और कहां किया गया खर्च

बजट में जोर किस बात पर रहेगा, इस सवाल पर वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश की कोई एक ऐसी योजना बता दीजिए, जिसके लिए धन आवंटित ना किया गया हो। हमने एक बात जरूर की है, जो पहले नहीं होती थी। वह यह कि फरवरी तक, खर्च एक-एक रुपए का ब्यौरा आ गया है। हमने स्पष्ट कर दिया था कि अगला धन आबंटन तभी होगा, जब पूर्व के धन का हिसाब मिल जाएगा।

ये भी पढ़ें- मध्यप्रदेश में औंधे मुंह गिरे टमाटर के भाव, अब कैसे मिलेगा किसान के पसीने का वाजिब मोल

ये भी पढ़ें- किसान प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए करें हनुमान चालीसा का पाठ, मध्य प्रदेश के पूर्व भाजपा विधायक की सलाह

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सत्ता में आने के बाद योगी सरकार ने पिछले साल 3,84,659.71 करोड़ रुपए का बजट पेश किया था। किसान कर्ज माफी के चुनावी वायदे को पूरा करने के लिए 36 हजार करोड़ रुपए का विशेष प्रावधान किया गया था। किसान कर्ज माफी भाजपा का बड़ा चुनावी वायदा था और इसे पूरा करना योगी सरकार के लिए एक चुनौती थी।

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top