सोलर पंप से करें सिंचाई, बिजली की होगी बचत

सोलर पंप से करें सिंचाई, बिजली की होगी बचतप्रतीकात्मक तस्वीर

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

गोरखपुर। सूर्य की रोशनी से खेत की सिंचाई करने का मजा ही कुछ और है। इसमें किसान को जेब से कुछ भी नहीं लगाना है। बस एक बार अनुदान पर सोलर पंप लगवाए और खेतों की सिचाईं करते रहें। इसके लिए कृषि विभाग द्वारा किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए सोलर पंप के बारे में लगातार जागरूक किया जा रहा है। ताकि किसानों को सिंचाई करने में किसी भी प्रकार के दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

अनुमानित दर पर सोलर पंप लेने के लिए किसानों को पहले ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा। इसके साथ ही विकल्प देना होगा कि दो, तीन या पांच कितने हार्स पावर का पंप उसे चाहिए। यह योजना पहले पंजीकरण कराओ, पहले लाभ पाओ के सिद्धान्त पर किसानों को मुहैया कराई जाती है।

ये भी पढ़ें- सिंघाड़ा लगाने का काम शुरू, लेकिन नर्सरी के लिए किसानों को रही परेशानी

सोलर पम्प के ऑनलाइन पंजीकृत कृषकों की विकास खण्डवार लक्ष्य के अनुसार सूची तैयार होती है। इसके बाद जनपदीय उप कृषि निदेशक द्वारा सत्यापन कराया जायेगा कि दो हार्स पावर के सोलर पम्प के लिए पंजीकृत किसान के पास चार इंच और तीन व पांच हार्स पावर सोलर पंप के लिए छह इंच क्रियाशील बोरिंग उपलब्ध है या नहीं।

ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन : अगर लागू हो जाएं ये सिफारिशें तो हर किसान होगा पैसे वाला

बड़हलगंज ब्लॉक के जाईपार गाँव निवासी राजकिशोर मिश्र (45 वर्ष) ने बताया,“ दो हार्स पावर के सोलर पंप से पिछले करीब एक साल से खेत की सिंचाई करा रहा हूं। अभी तक कोई दिक्कत नहीं आ रही है। इससे काफी लाभ मिल रहा है। यह किसानों के लिए सरकार की काफी अच्छी योजना है। आर्थिक स्थिति मजबूत हो रही है।”

ये भी पढ़ें- गूगल अलर्ट बनाने वाले इंजीनियर ने नौकरी छोड़ शुरू की खेती, सालाना करते हैं 18 करोड़ की कमाई

बेलघाट ब्लॉक के बेलघाट गाँव निवासी दिनेश प्रताप शाही (55 वर्ष) ने बताया,“दो हार्सपावर का सोलर पंप लगवाया है। कृषि विभाग की ओर से अनुदान पर मिला था। इससे खेत की सिंचाई करने में काफी बचत हो रही है। किसानों के लिए यह पंप काफी मददगार है।”

ये भी पढ़ें- सोनिया गांधी और राहुल के गोद लिए गांवों के लोगों का दर्द सुनिए

उपनिदेशक कृषि डॉ. संजय सिंह सोलर पंप से किसानों को काफी लाभ मिल रहा है, जिन्होंने सोलर पंप लगाया है उनके खेत की सिंचाई में कोई दिक्कत नहीं आ रही है। इस योजना का लाभ कृषि विभाग में पंजीकृत किसानों को मिलेगा। इसके अलावा किसान को सोलर पंप या अन्य कृषि यंत्र को लगाने के लिए अलग से पंजीकरण कराना होगा क्योंकि अनुदान की राशी सीधे किसान के बैंक खाते में जाती है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top