यूपी: लैब टेक्नीशियन ने कर दिया ऑपरेशन , गर्भाशय निकाला और फाड़ दी पेशाब की थैली 

यूपी: लैब टेक्नीशियन ने  कर दिया ऑपरेशन , गर्भाशय निकाला और फाड़ दी पेशाब की थैली इसी नर्सिंग होम में हुआ खेल। 

कन्नौज। यूपी के कन्नौज में एक प्राइवेट नर्सिंग होम में डिलिवरी कराने आई महिला का लैब टेक्नीशियन ने आपरेशन कर दिया। महिला का कहना है, गलत आपरेशन होने से उसका बच्चा मर गया। महिला ने आरोप लगाया है कि लैब टेक्नीशियन ने उसका गर्भाशय भी निकाल लिया और पेशाब की थैली भी फाड़ दी। पीड़िता ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

ये भी पढ़ें- यूपी के झोलाछाप डॉक्टर : बीमारी कोई भी हो सबसे पहले चढ़ाते हैं ग्लूकोज 

जिला अस्पताल से आठ किमी दूर स्थित हैवतपुर कटरा निवासी करीब सोनी दोहरे (28वर्ष) ने बताया, ‘‘30 मार्च 2018 को अर्शी हास्पिटल में भर्ती कराया गया था। डाक्टर ने आपरेशन कर बच्चा निकाला और बताया की बच्चा मरा हुआ था। बाद में बच्चादानी निकाल दी। पेशाब की थैली भी फटी बताई गई। अब मुझे पेशाब करने में दिक्कत है। खून की भी कमी है। मेरे कोई बच्चा नहीं है।’’ सोनी आगे बताती है, ‘‘ मैं अब जिला अस्पताल में भर्ती हूं। हमको मां बनने के बारे में अभी कुछ डाक्टर ने बताया नहीं है।’’

ये भी पढ़ें- भारत में आधे से ज्यादा डॉक्टरों के पास योग्यता नहीं वाली डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट गलत 

सोनी के पति अनुज दोहरे के बडे़ भाई भगवत प्रसाद बताते हैं, ‘‘समझौता के लिए इधर-उधर से कहा जा रहा है। अभी हम डिसीजन नहीं ले पा रहे हैं। पहले दिन तो अर्शी नर्सिंगहोम के डाक्टर ने गाली भी दी थी। डा. मुशीर ने भाई की पत्नी को मारा भी था। ’’

ये भी पढ़ें- झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की ज़िंदगी से कर रहे खिलवाड़ 

एसडीएम सदर कन्नौज शालिनी प्रभाकर बताती हैं, “डीएम सर ने सुबह 10 बजे निर्देश दिया कि दो-तीन दिन पहले ठिलिया पर मरीज लेकर एक व्यक्ति जिला अस्पताल आया था, उसकी गोपनीय जांच करनी है। सोनी ने बयान दिए कि 30 मार्च को सोनी ने आपरेशन कराया था। अर्सी नर्सिंगहोम में उसका गर्भाशय निकाल दिया गया।’’

एसडीएम ने आगे बताया, ‘‘जब जांच करने नर्सिंगहोम पहुंची तो आपरेशन चल रहा था। हम लोग ओटी के बाहर खड़े रहे। बाद में ओटी से डा. मुशीर निकला, जो आपरेशन के लिए आथराइज नहीं है। साथ में कंपाउंडर और नर्स भी थी। ’’

जिला अस्पताल में इलाज कराती पीड़िता।

उन्होंने आगे बताया, मुशीर ने बताया कि उनके पास बीएएमएस की डिग्री है। जांच में यह बात गलत पाई गई वह सिर्फ डीएमएलटी है। बाद में सफाई दी कि सोनी का आपरेशन डा. रवीन्द्र और डा. केके जायसवाल ने किया था।

संचालक के पास कोई मेडिकल डिग्री नहीं है वह मालिक था। खुद ही आपरेशन कर रहा था। पीड़ित ने लिखकर दिया है कि बच्चेदानी निकाल दी गई है। ब्लेडर भी कट गई थी। अब महिला जिला अस्पताल में भर्ती है। बच्चेदानी निकल गई है तो भविष्य में वह मां नहीं बन पाएगी।
डा. कृष्ण स्वरूप, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, कन्नौज

सोनी के पति अनुज ने बताया है, मुशीर ने आपरेशन ही किया। प्रथम दृश्टया मुशीर ही दोशी पाए गए। मुशीर डाक्टर हैं या नहीं यह सीएमओ साहब ही बता सकते हैं। आरोपी लैब टैक्नीशियन है।

शालिनी प्रभाकर, एसडीएम सदर- कन्नौज

सिर्फ 14 नर्सिंगहोम ही पंजीकृत

सीएमओ ने बताया कि कन्नौज जिले में सिर्फ 14 नर्सिंगहोम पंजीकृत हैं। जबकि हकीकत में गैरकानूनी ढंग से अधिक नर्सिंगहोम चल रहे हैं। सीएमओ ने कहा डीएम साहब ने छापेमारी करने को कहा है। अभियान चलाया जाएगा। एक साथ कार्रवाई नहीं कर सकते हैं। षिकायत आएगी तो कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- आठवीं पास झोलाछाप खुद को बताते हैं बड़े से बड़ा सर्जन

ये भी पढ़ें- नीम हकीम इलाज के नाम पर बांट रहे बीमारी

ये भी पढ़ें- इस नए बिल से क्यों कांप रहे हैं एमबीबीएस डॉक्टर ?

Share it
Top