आधार कार्ड में हुई गलतियों को दूर करेगा डाक विभाग 

आधार कार्ड में हुई गलतियों को दूर करेगा डाक विभाग प्रतीकात्मक तस्वीर।

ओपी सिंह परिहार, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

इलाहाबाद। आधार कार्ड में मौजूद कमियों को दूर कर अपडेट करने का काम डाक विभाग करेगा। इसके लिए विभाग की ओर से ‘आधार’ आम आदमी का अधिकार अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के तहत डाक विभाग गाँव-गाँव में लोगों को आधार कार्ड का महत्व और होने वाले फायदे की जानकारी देगा, जिससे अधिक से अधिक लोग आधार कार्ड के उपयोग के लिए आगे आएं।

इस अभियान को आगे बढ़ाते हुए इलाहाबाद स्थित प्रधान डाकघर में आधार कार्ड अपडेशन सेंटर की स्थापना की गई है, जहां पहुंचकर लोग अपने आधार कार्ड में मौजूद जानकारियों को अपडेट करा सकेंगे।

ये भी पढ़ें:- कर्ज़माफी : किसानों की डाटा फीडिंग की तारीख खत्म, कई मंडलों में 40 फीसदी भी काम पूरा नहीं

आधार कार्ड बनाते समय तमाम लोगों के आधार कार्ड में गलत जानकारी दर्ज हो जाती है, जिसमें सुधार कराने के लिए लोगों को दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही थीं, हालांकि यह सेवा ऑनलाइन उपलब्ध है, लेकिन इसके उपयोग के लिए लोगों से पैसे वसूले जाते हैं, जबकि यह सेवा सरकार की ओर से निःशुल्क दी जा रही है। आधार कार्ड अपडेशन का काम आसान बनाने के लिए डाक विभाग की ओर से आधार आम आदमी का अधिकार अभियान शुरू किया गया।

प्रधान डाकघर मे अपडेशन सेंटर की शुरुआत पीएमजी इलाहाबाद परिक्षेत्र एम यू अब्दाली ने की। इस दौरान इन्होंने ने आम आदमी के जीवन में एलपीजी सब्सिडी, मासिक वेतन, जनधन खाता, डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के साथ ही नए रूप से खुलने वाले खातों में आधार कार्ड की उपयोगिता को बताया।

ये भी पढ़ें:- हाय रे महंगाई: टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात बंदूकधारी गार्ड

आधार कार्ड अपडेशन सेंटर पर किसी भी कार्यदिवस पर पहुंचकर आधार कार्ड में मौजूद त्रुटियों में संशोधन निःशुल्क कराया जा सकता है। आधार कार्ड बनाने की जिम्मेदारी अभी तक निजी संस्थाओं को दी गई थी, जिससे कई जगहों पर अप्रशिक्षित लोगो को इसके लिए लगाया गया था, जिससे आधार कार्ड में तमाम त्रुटियां दर्ज हो जाती थी, जिसमें संशोधन के लिए निजी संस्थाएं लोगों से 100 से 200 रुपए वसूलती थी।

आधार कार्ड संशोधन के लिए शुरू इस सेवा पर नैनी क्षेत्र के दांडी निवासी समरेश भारती (56 वर्ष) का कहना है, “आधार कार्ड में उम्र गलत दर्ज हो गया था, जिसमें सुधार करने के लिए 100 रुपया जमा कराया गया और एक महीने बाद नया आधार कार्ड मिला।”

ये भी पढ़ें:- कम लागत में ज्यादा मुनाफे के लिए करें बटेर पालन

वहीं महेवा गाँव निवासी बेबी पाल (36 वर्ष) का कहना है, “आधार कार्ड में सुधार कराने के लिए बहुत परेशान हो गई थी पता नहीं चल रहा था की सुधार कहा होता है।”

डाक विभाग निदेशक सुनील कुमार राय ने बताया लोगों की सुविधा के लिए यह अभियान शुरू किया गया है। डाक विभाग अभी कई नई सेवाएं लेकर लोगों के बीच आने वाला है।

ये भी पढ़ें:- सस्ती तकनीक से किसान किस तरह कमाएं मुनाफा, सिखा रहे हैं ये दो इंजीनियर दोस्त

वीडियो : एलोवेरा की खेती का पूरा गणित समझिए, ज्यादा मुनाफे के लिए पत्तियां नहीं पल्प बेचें

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top